VPN Kya Hai (क्या है) ?

दिन-प्रति-दिन Internet फैलता ही जा रहा है। जिसकी वज़े से cyber crime भी बढ़ते ही जा रहे है। जिन में से Private Details का leak होना सबसे तेजी से फैलने वाला crime बन चुका है। आज मैं बताउगा कि VPN Kya Hai और आप vpn की मदद अपनी Privacy कैसे maintain कर सकते है।

vpn kya hai
vpn kya hai

इससे पहेले के मैं आपको बताओ कि VPN kya hai. आपका यह जान लेना ज़रूरी है कि Internet में आपकी private details leak कैसे होती है ?

दोस्तो, आपकी private details आपकी कुछ गलतियो के कारण होती है, जैसे कि फ़ालतू के online forms fill करना, फ़र्ज़ी websites को visit करना, Pirated Softwares को use करना अतिये आदि, कारनो की वजा से आपकी information leak हो जाती है। तो VPN का use करने से आपकी Privacy increase हो जाती है, कैसे हो जाती है इस के लिए इस article को पड़ते रहे।

VPN Kya Hai ?

VPN का full form है- Virtual Private Network

  VPN एक ऐसी service है जिसकी मदद से आप अपनी IP को hide कर सकते है। क्योंकि इसे आप किसी भी server को remotly acess कर सकते है ओर उसी server की IP से आप पूरा internet acess करते है। 

How VPN Works ?

दोस्तो VPN का concept काफी ज्यादा simple and clear है। मैं आपको इनके concept को एक example की मदद से समझता हूँ।

मान लीजिए कि आपको internetjankari.com को open करना है, तो जब आप अपने Browser में internetjankari.com को open करेगे तो आपके ISP (Internet service provider) के पास request आएगी कि आपको internetjankari.com open करना है।

अब अगर आपकी country में internetjankari.com को open करना allowed है तो वो आपको internetjankari.com के server के साथ connect कर देगा।

So, अगर आपको अपने ISP को नही बताना चाहते है कि आप कौनसी websites को visit कर रहे है तो इस काम के लिए VPN का use किया जाता है।

जब आप किसी VPN service से connect करते है तो, तो उसमे थोड़ा सा काम different होता है, my mean is कि जब आप किसी website को open करेगे, तो आपके ओर आपके ISP के बीच मे VPN service आ जाती है जैसे नीचे image में भी दिखाया गया है।

How vpn works, VPN Kya hai, VPN kaise kam karte hai

जैसा कि आप image में देख पा रहे है, कि VPN से Connect करने में जो connection बन रहा है, वो fully encrypted है, जिससे आपके ISP को पता नही चलता है कि आप क्या packets send कर रहे है।

अभी जो packages send है, वो आपके VPN server के पास चले जाते है, जिसे वो decrypte करके आपकी website को open करवा देगा।

ज़्यदा जानकारी के लिए इस video को ज़रूर देखे।

दोस्तो आज का यह article यही तक था, अगर आपको यह article अच्छा लगा है, तो इसे अपने दोस्तों के साथ share करना मत भूलिए गा।

Leave a Comment

3 Shares
Share
Tweet
Pin3
Share